बिहार में 2.30 घंटे का ड्रामा, लालू और तेजस्वी के 10 बिगड़े बोल जो किसी डायलॉग से कम नहीं थे.

कफन में जेब नहीं होती, जो भी होगा यहीं रह जाएगा : नीतीश कुमार


27th July 2017 | CyberManch.com

 बिहार की राजनीति में बुधवार को बड़ा उलटफेर हुआ है. तेजस्वी यादव को लेकर लंबी तकरार के बाद आखिर नीतीश कुमार ने इस्तीफा दे दिया. हालांकि 20 महीने पुरानी महागठबंधन सरकार के सीएम पद से इस्तीफा देने के बाद नीतीश को सबसे पहले पीएम नरेंद्र मोदी से बधाई मिली.इसके बाद तो जैसे बयानों का सिलसिला ही शुरू हो गया. लालू यादव ने तुरंत प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर नीतीश कुमार पर ही सवाल खड़े कर दिए. लालू ने कहा कि नीतीश तेजस्वी को लेकर सवाल उठा रहे हैं, वह तो खुद ही मर्डर केस में आरोपी हैं. यही नहीं नेता इस परिस्थिति में भी ऐसे बयान देते दिखाई दिए जो किसी फिल्मी डॉयलॉग से कम नहीं थे.

आइये जानें किसने क्या कहा
मैं तो बहाना था, उन्हें तो बीजेपी की गोद में जाना था : तेजस्वी यादव
जब भी नीतीश हमारे पास आए तिलक कर दिया जाओ राज करो : लालू प्रसाद यादव
जेडीयू थाना है क्या : लालू प्रसाद यादव
कफन में जेब नहीं होती, जो भी होगा यहीं रह जाएगा : नीतीश कुमार
नीतीश कुमार ने खेला बड़ा सियासी दांव, ये हैं इस्‍तीफे के अहम कारण
जीरो टॉलरेंस की बात करने वाले खुद हत्या के आरोपी : लालू प्रसाद यादव
आगे क्‍या होगा, कब होगा, कैसा होगा.. यह सब आगे छोड़ दीजिए, आज का चैप्‍टर बस यही है : नीतीश
किस मुंह से ये शपथ लेने का काम करेंगे, इनका मर्डर केस चल रहा है : तेजस्वी यादव
संघ से निकले, संघ की शाखा में ही पहुंच गए, तेजस्वी बहाना है, उन्हें बीजेपी के साथ जाना था : मनोज झा
ये मामला पहले से सेट था : लालू यादव

गौरतलब है कि तेजस्वी यादव ने इस पूरे घटनाक्रम पर कहा कि मैंडेट के मुताबिक- सरकार बनाने का दावा पेश करने का जिम्मा हमारा था. राज्यपाल ने हमें 11 बजे मुलाकात का समय दिया था. थोड़ी देर बाद खबर आई कि सुबह 10 बजे शपथग्रहण होगा. जनता के सामने माफी मांगनी चाहिए. राज्यपाल को अपनी भूमिका साफ करनी चाहिए. हम संविधान के तहत राज्यपाल से शपथग्रहण रोकने की मांग करते हैं. हम कोर्ट जाएंगे, हम हर तरह की कानूनी सलाह ले रहे हैं. JDU में सामाजिक न्याय को मानने वाले लोग आज RJD-कांग्रेस के साथ हैं. JDU में सामाजिक न्याय को मानने वाले लोग आज RJD-कांग्रेस के साथ हैं. अन्याय हो रहा है, लोकतंत्र की हत्या हो रही है. बिहार की जनता ने जो मैंडेट दिया था, उसके साथ धोखा हो रहा है. हम हाथ पर हाथ धरे नहीं बैठेंगे. मुझे मोहरा बनाया गया, तेजस्वी बहाना था, उन्हें बीजेपी के साथ जाना था.