विंडोज 10 में गलती ढूंढने पर माइक्रोसॉफ्ट देगा 1.6 करोड़ रुपए, कंपनी ने शुरू किया Windows Bounty Programme

दुनिया की प्रमुख टेक्‍नोलॉजी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने विंडोज 10 को सबसे सुरक्षित बनाने के लिए Windows Bounty Programme शुरू किया है।


31st July 2017 | CyberManch.com

 अगर आप करोड़ पति बनना चाहते हैं आपके लिए खास मौका है, इसके लिए आपको माइक्रोसॉफ्ट के विंडोज 10 सॉफ्टवेयर में गड़बड़ी(बग) ढूंढना होगा। जी हां, दुनिया की प्रमुख टेक्‍नोलॉजी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने विंडोज 10 को सबसे सुरक्षित बनाने के लिए Windows Bounty Programme शुरू किया है। जिसके तहत यदि कोई व्‍यक्ति विंडोज 10 में बग ढूंढता है, तो कंपनी उसे 500 डॉलर से लेकर 2.5 लाख डॉलर यानि करीब 1 करोड़ 60 लाख रुपए देगी।

 

कंपनी इससे पहले भी इस प्रकार का प्रोग्राम शुरू कर चुकी है। पिछला Windows Bounty Programme 2012 में शुरू किया गया था। जिसने दुनिया भर में हलचल मचा दी थी। कंपनी के नए बग फाइंडिंग प्रोग्राम की घोषणा बुधवार रात की गई। इस संबंध में माइक्रोसॉफ्ट की वेबसाइट पर किए गए पोस्‍ट के अनुसार किसी भी महत्वपूर्ण बग कोड निष्पादन  या डिजायन में कमी जोकि ग्राहक की निजता और सुरक्षा को खतरे में डालती है उसकी जानकारी देने पर इनाम दिया जाएगा।

 

 

कंपनी ने घोषणा करते हुए कहा कि अगर कोई रिसर्चर ऐसी समस्‍या की जानकारी हमें देता है और उसके बारे में माइक्रोसॉफ्ट को पहले से ही पता है, तो उसकी जानकारी सबसे पहले देने वाले को उच्चतम रकम का अधिकतम 10 फीसदी दिया जाएगा। माइक्रोसॉफ्ट के अलावा अन्य प्रौद्योगिकी कंपनियों जैसे गूगल, फेसबुक और एपल ने अपने-अपने सॉफ्टवेयरों में बग और दोष का पता लगाने वालों को इसी प्रकार से इनाम देती है।